ITMI संस्मरण: मुझे किताबों में उलझाने वाला ‘निशांत भारद्वाज’

((बिहार को मैं कितना जान पाया हूं नहीं पता. लेकिन दुनिया को 9 के आगे की गिनती सिखाने वाले आर्यभट्ट से लेकर राजनीति के प्रबोध बाबू जयप्रकाश नारायण की कर्मभूमि के तौर पर ये सरजमीं पूजनीय है. और मैं ये बिना रूके कह सकता हूँ कि जिस पथ पर मेरे कदम आज चलायमान हैं यानीContinue reading “ITMI संस्मरण: मुझे किताबों में उलझाने वाला ‘निशांत भारद्वाज’”