संचारी भावावेश से भरा अपना पहाड़ी दोस्त !

((सुमित ने जितना मेरा साथ दिया, उतना तो मैंने खुद का ध्यान नहीं रखा होगा. उसके जैसे दोस्त मित्रता की आदर्श स्थितियों को आज भी बनाये रखने के लिए जिम्मेदार है. निश्छल मुस्कराहट से भरा चेहरा अगर आपका मन मोह ना ले तो कहिएगा.)) बंदा मीडिया इंडस्ट्री में जितने लोग हिमाचल से आते हैं. सबकोContinue reading “संचारी भावावेश से भरा अपना पहाड़ी दोस्त !”